Image default
JharkhandPoliticsSeraikela / Kharswan

सांसद सेठ ने अबतक तीन बार लोकसभा के सदन में विस्थापितों के मुद्दे को उठाया

विस्थापितों के आमरण अनशन पर पहुंचे सांसद संजय सेठ, मुख्य सचिव से की बात

चांडिल। स्वर्णरेखा परियोजना के चांडिल पुनर्वास कार्यालय के समक्ष चांडिल डैम के विस्थापितों का आमरण अनशन पांचवें दिन भी जारी रहा। रविवार को रांची सांसद संजय सेठ अनशनस्थल पहुंचे तथा विस्थापितों की मांगो से अवगत हुए। सांसद ने विस्थापित मुद्दे को लेकर राज्य के मुख्य सचिव सुखदेव सिंह से दुरभाष पर बात की। वहीं, सांसद ने विस्थापितों की समस्याओं तथा वर्तमान स्थिति से मुख्य सचिव को अवगत कराया। सांसद ने राज्यपाल के एडीसी से भी इस सबंध में दुरभाष पर बात की। सांसद ने कहा कि हमारा प्रयास होगा की जल्द ही विस्थापितों का एक प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल से मिले। विस्थापितों ने सांसद से आग्रह किया की वे विस्थापितों की समस्याओं का स्थायी सामाधान करने की दिशा में पहल करें।

राज्य सरकार की मंशा पर सवाल खड़ा हो रहा है : सांसद

सांसद ने कहा कि वे तीन बार लोकसभा में विस्थापित मुद्दे को लेकर आवाज उठाया। परंतु राज्य सरकार आज तक इसका कोई जबाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि 40 वर्ष बाद भी कई विस्थापितों का विकास पुस्तिका नहीं बनना समझ से परे है। राज्य सरकार की मंशा पर सवाल खड़ा कर रहा है। चांडिल डैम वरदान की जगह अब अभिशाप बन गया है। सांसद ने कहा कि मुख्य सचिव ने जलसंसाधन सचिव से इस मुद्दे पर बात करने का आश्वासन दिया है। इस मौके पर सांसद प्रतिनिधि विशाल चौधरी, जिला उपाध्यक्ष खुदी सिंह सरदार,मंडल अध्यक्ष खगेन महतो, दिवाकर सिंह आदि मौजुद थे।

Related posts

चांडिल : भूमिज समाज द्वारा मनाया गया विद दिरि दिवस

admin

अखिल झारखंड अधिवक्ता संघ के राज्यस्तरीय अधिवेशन में बोले सुदेश – अधिवक्ता प्रतिक्रिया देने वाले नहीं करने वाले बने

admin

सरायकेला : मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत जिला प्रशासन ने रवाना किया हज यात्रियों का जत्था

admin

Leave a Comment