Image default
IndiaPolitics

कुड़मी समाज झुकेगा नहीं…… तीसरे दिन भी रेल चक्का जाम

एसटी का दर्जा, भाषा को आठवीं अनुसूची में शामिल तथा सरना धर्मकोड लागू करने की मांग

डेस्क : साउथ इंडियन फ़िल्म पुष्पा के प्रसिद्ध डायलॉग “पुष्पा झुकेगा नहीं साला” की तरह ही कुड़मी समाज का मिजाज देखने को मिल रही हैं। अनुसूचित जनजाति का दर्जा देने की मांग पर शुरू की गई अनिश्चिकालीन रेल चक्का जाम आज तीसरे दिन भी जारी है। यहां कुड़मी समाज भी केंद्र सरकार को यही संदेश देना चाह रही हैं कि “कुड़मी समाज झुकेगा नहीं”।

टोटेमिक कुड़मी समाज झाड़ग्राम – छोटानागपुर कमिटी द्वारा 20 सितंबर से रेल चक्का जाम किया गया है, जो आज भी जारी है। पश्चिम बंगाल के खेमासोली में रेल पटरियों पर हजारों लोग अनिश्चिकालीन चक्का जाम पर बैठे हैं। आंदोलनकारियों ने नेशनल हाईवे को भी जाम कर दिया है। रेल मार्ग और नेशनल हाईवे को बाधित करने से यात्री हलकान में है। कई ट्रेनें रद्द होने से यात्री फंसे हुए हैं।

कुड़मी समाज की तीन मांग :

अनिश्चितकालीन रेल चक्का जाम से पूर्व टोटेमिक कुड़मी समाज द्वारा सरकार को लिखित शिकायत किया था कि पूर्व में कुड़मी समाज को अनुसूचित जनजाति का दर्जा प्राप्त था लेकिन उसे 1950 में हटा दिया गया है, क्यों? पुनः कुडमियों को अनुसूचित जनजाति की सूची में शामिल करने की मांग है। इसके अलावा कुड़मालि भाषा को आठवीं अनुसूची में शामिल करने तथा सरना धर्मकोड लागू करने की मांग है।

अबतक वार्ता असफल, आज फिर होगी वार्ता

गत 20 सितंबर को झारखंड, ओडिशा और पश्चिम बंगाल में निर्धारित जगहों पर रेल चक्का जाम किया था। कुछ घंटे बाद झारखंड और ओडिशा में की गई चक्का जाम समाप्त हो गई। लेकिन पश्चिम बंगाल के खेमासोली में तीन दिन से आंदोलन जारी है। खेमासोली में चक्का जाम पर बैठे आंदोलनकारियों को हटाने में प्रशासन अबतक विफल रही। प्रशासन ने हर तरह से प्रयास किया, लेकिन प्रयास असफल रही।

स्थानीय प्रशासन और रेल प्रशासन द्वारा आंदोलनकारियों को हटाने का लगातार प्रयास किया जा रहा है, कई दौर की वार्ता भी चली। परंतु, अबतक वार्ता किसी नतीजे पर नहीं पहुंची। आज भी बैठक होने की जानकारी दी गई हैं। जिसमें वरीय अधिकारियों के शामिल होने की सूचना है।


आंदोलनकारी रेलवे ट्रैक के बगल में भी टैंट लगाकर भोजन पका रहे हैं। नाच गाना भी हो रहा है। वहीं, कुड़मी समाज के लोगों द्वारा लगातार अपने भाषण में सरकार पर निशाना साधते हुए एसटी का दर्जा दिए जाने की मांग की जा रही हैं।

Related posts

धोखाधड़ी के आरोप में पुलिस कस्टडी में गई मशहूर कलाकार सपना चौधरी

admin

पीएम मोदी जाएंगे ओडिशा

administrator

साइकिल क्रांति : स्वास्थ्य सशक्तिकरण का संदेश लेकर साइकिल यात्रा पर निकले “मेहुल भारत यात्री” पहुंचा चांडिल, नौ राज्य में यात्रा कर झारखंड में प्रवेश किया

admin

Leave a Comment