जमशेदपुर : मानगो के फिरोज को मिली दस साल की सजा

admin

धारा 325 में सात साल और 326 तथा 307 के तहत दस – दस साल की सजा

जमशेदपुर : बीते साल चार अप्रैल को घटित एक मामले में कोर्ट ने फैसला सुनाया है। कोर्ट ने अपने फैसले में मानगो ओल्ड पुरुलिया रोड निवासी फिरोज आलम उर्फ मंटू को दस साल कारावास की सजा सुनाई है।

दरअसल, पिछले साल चार अप्रैल 2021 को सैय्यद फारूक गोलमुरी बाजार में न्यू टाटा रेफ्रिजरेटर के दुकान का शटर खोलने गया था। इस दौरान फिरोज ने धारदार हथियार से सैय्यद फारूक पर हमला कर दिया था। फिरोज ने कटर से सैय्यद की गर्दन काट दी थी। जिसके बाद सैय्यद को एमजीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहीं, गोलमुरी थाने में फिरोज के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था। जबकि, पुलिसिया जांच में फिरोज के भाई परवेज को राहत दी गई हैं।

कोर्ट ने फिरोज आलम उर्फ मंटू को दस साल की सजा तथा 60 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है। मंगलवार को प्रधान न्यायाधीश एवं जिला जज अनिल मिश्रा के कोर्ट ने सजा का फैसला सुनाया। इससे पूर्व सोमवार को ही मामले के नौ गवाहों को पेश किया गया था। गवाहों के बयान के बाद ही कोर्ट ने फिरोज को दोषी पाया था। कोर्ट ने फिरोज को धारा 325 के तहत सात साल और धारा 326 तथा धारा 307 के तहत दस – दस साल की सजा सुनाई है। सभी सजाएं एकसाथ चलेंगी। इसके अलावा 60 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है।