Image default
Seraikela / Kharswan

चांडिल : ओलचिकी अध्ययन केंद्र का हुआ उद्घाटन, संथाली भाषा की पढ़ाई लिखाई सीखेंगे आदिवासी

विश्वरूप पांडा : सरायकेला खरसावां। चांडिल प्रखंड अंतर्गत गांगूडीह पुनर्वास में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर ओलचिकी अध्ययन केंद्र का उद्घाटन हुआ। ओलचिकी व संथाली भाषा पठन पाठन के लिए टाटा स्टील फाउन्डेशन जमशेदपुर व गुरू गोमके पं रघुनाथ मुर्मू एकाडेमी द्वारा संयुक्त रूप से इस अध्ययन केंद्र का शुभारंभ किया गया है। इस अध्ययन केंद्र में क्षेत्र के आदिवासी संथाली भाषा पढ़ना और लिखना सीखेंगे।

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री के मामा गुरूचरण किस्कू व विशिष्ट अतिथि समाजसेवी सुधीर किस्कू ने अध्ययन केंद्र का उद्घाटन किया। इस अवसर पर अतिथियों ने पं रघुनाथ मुर्मू के तस्वीर पर श्रद्धांजलि दी। इसके बाद मुख्य अतिथि ने विद्यार्थियों का नामांकन का शुभारंभ किया। मौके पर गुरूचरण किस्कू ने कहा संथाली भाषा की ओलचिकी लिपि से पढ़ाई चालू होने से संथाल समाज के बच्चे अपने भाषा लिपि जानने के साथ साथ संस्कृति से परिचित होंगे। ।मौके पर मांझी बाबा बितन हांसदा, श्यामल मार्डी, विभूति मुर्मू, ग्राम प्रधान बोनु सिंह सरदार, नेपाल बसेरा, महेश्वर मुर्मू, अनिमा टुडू, बहादुर कुम्भकार आदि मौजूद थे।

Related posts

चांडिल : प्रमुख चुनाव को स्थगित करने की मांग, पूर्व प्रमुख ने कहा – सीएम हेमंत की भाभी विधायक सीता सोरेन समेत कई महिला जनप्रतिनिधि भी ओडिशा व बंगाल की बेटी

admin

आदित्यपुर : लोडेड पिस्तौल के साथ पुलिस के हत्थे चढ़ा कुख्यात अपराधी

admin

अब झामुमो नेताओं के बीच से विधायक गायब, अलग अलग गुटों में बंटी ईचागढ़ झामुमो

admin

Leave a Comment