Image default
HealthJharkhandSeraikela / Kharswan

एक्शन मोड में आई चांडिल प्रमुख अमला मुर्मु, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण कर दी आवश्यक निर्देश

सरायकेला – खरसवां : जिले के चांडिल प्रखंड प्रमुख अमला मुर्मु एक्शन मोड में आ गई हैं। प्रमुख अमला मुर्मु ने अब सरकारी संस्थानों के कमी खामी पर निरीक्षण करने का अभियान शुरू कर दिया है। आज चांडिल प्रखंड प्रमुख अमला मुर्मू ने चांडिल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरिक्षण किया। निरीक्षण के दौरान प्रमुख ने कुपोषण केंद्र, स्टोर रूम, मीटिंग हॉल आदि की जानकारी ली। वहीं, चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों की उपस्थिति पंजी, स्टॉक दवा, वैक्सीन, बेड, साफ सफाई का निरीक्षण किया।


इस दौरान उपस्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ एचएस शेखर ने प्रमुख अमला मुर्मु को जानकारी देते हुए कहा कि कुपोषण केंद्र, स्टोर रूम, मीटिंग हॉल आदि बिल्डिंग की कमी के साथ ही अनुमंडल अस्पताल में आवश्यक 11 चिकित्सकों के बदले 4 चिकित्सक ही पदस्थापित हैं।सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 7 चिकित्सक की आवश्यकता है लेकिन इसमें कोई चिकित्सक नहीं है। चांडिल उप स्वास्थ्य केंद्र भी इसी भवन में चलती है उसमें में भी कोई चिकित्सक नहीं है। एक ही भवन में अनुमंडलीय अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और चांडिल उप-स्वास्थ्य केंद्र संचालित हो रही है। पूरे प्रखंड क्षेत्र में 25 उप स्वास्थ्य केंद्र तथा 2 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चावलीबासा और चौका में है। लेकिन स्वास्थ्य विभाग की कोई भवन नहीं है। अधिकतर उप स्वास्थ्य केंद्र बिना भवन के चल रही है। कई केंद्र आंगनबाड़ी केंद्र एवं पंचायत भवन तथा अन्य सामुदायिक भवन में वैकल्पिक व्यवस्था करके चलाई जा रही है। दवा की उपलब्धता के बारे में बताया कि वर्तमान में राज्य सरकार से कोई दवा उपलब्ध नहीं कराया जा रहा है, जो भी दवा उपलब्ध हो रही हैं वह राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन से किया जा रहा है। वार्षिक आवंटन राशि के बारे में प्रभारी को कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि हमने कई बार विभाग को समस्याओं को बिंदुबार पत्र लिखकर अवगत कराएं हैं, लेकिन अभीतक किसी तरह का पहल नहीं हुआ है।

निरीक्षण के बाद प्रमुख अमला मुर्मु ने समय पर स्वास्थ्य कर्मियों की उपस्थिति सुनिश्चित करने और स्वास्थ्य केंद्र की नियमित साफ सफाई का निर्देश दिया। प्रमुख ने कहा कि स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सकों और दवाओं की कमी बड़ी समस्या है, इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग के वरीय अधिकारियों को पत्राचार करेंगी। अमला मुर्मु ने कहा कि चांडिल प्रखंड के गर्भवती महिलाओं के प्रसव के लिए बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने के लिए भी वह विभागीय अधिकारियों से बात करेगी।

प्रमुख अमला मुर्मु ने बताया कि अब वह प्रतिदिन सरकारी संस्थाओं का निरीक्षण करेंगी। सरकारी योजनाओं के निरीक्षण के बाद कमी खामियों को लेकर विभागीय कार्रवाई की शुरुआत किया जाएगा। वहीं, दोषी पाए जाने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई की अनुशंसा भी किया जाएगा। अमला मुर्मु ने कहा कि सरकारी योजनाओं का लाभ जरूरतमंद लोगों तक पहुंचे और आम जनता को किसी तरह की परेशानी नहीं हो, यही उद्देश्य है। अस्पताल निरीक्षण के दौरान प्रबीन महतो, अजय महतो, रेखा प्रामाणिक आदि उपस्थित थे।

Related posts

सरायकेला : सदर अस्पताल के तीसरे तल्ले से कूदकर मरीज ने किया आत्महत्या

administrator

सरकार आंदोलनकारियों के संघर्ष तथा झारखंड गठन के उद्देश्य को समझे : सुदेश कुमार महतो

admin

चांडिल : हेमंत सरकार के 75% स्थानीय आरक्षण की धज्जियां उड़ा रही आवा ऑटो कंपस कंपनी, बंगाल के मजदूरों से ली जा रही काम

admin

Leave a Comment