Image default
PoliticsSeraikela / Kharswan

कपाली में बढ़ रहा आजसू का जनाधार, मुस्लिम समुदाय के लोग भी जुड़ रहे हरेलाल महतो के साथ

सरायकेला – खरसावां : 2019 विधानसभा चुनाव की जब जब बात होती हैं तो मुस्लिम मतदाताओं की चर्चा जरूर होती हैं। चर्चा होना स्वाभाविक है, क्योंकि मुस्लिम मतदाताओं ने थोक के भाव में अपना वोट महागठबंधन को दिया था। 2019 में ईचागढ़ विधानसभा में कपाली, चांडिल, गौरांगकोचा, चौड़ा, आमड़ा, झिमड़ी आदि मुस्लिम क्षेत्रों के मतदाताओं ने बढ़चढ़ कर मतदान में भाग लिया था और एकमुश्त वोट महागठबंधन के पक्ष में किया था। काफी कम मेहनत और कम प्रचार प्रसार में ही झामुमो प्रत्याशी विधायक सबिता महतो को मुस्लिम समुदाय के लोगों ने झोली भरकर वोट डाला था। शायद मुस्लिम समुदाय के लोगों को को उम्मीद थी कि उनके समस्याओं का समाधान होगा, विधायक बनने के बाद सबिता महतो मुस्लिमों के सुख दुख का साथी बनकर उनके समस्याओं का निदान करेंगी। पर, कहीं न कहीं विधायक साबिता महतो मुस्लिम समुदाय के उम्मीद पर खरा उतर नहीं पाई है।

2019 विधानसभा चुनाव नतीजों के बाद सभी राजनीतिक दलों की धारणा बन गई हैं कि मुस्लिम समुदाय की वोट कांग्रेस और महागठबंधन की पॉकेट वोट है। हर राजनीतिक दल यह मान चुकी हैं कि किसी कीमत पर मुस्लिम वोटों को इधर से उधर नहीं किया जा सकता है। इसके चलते झामुमो विधायक सबिता महतो भी निश्चिंत हैं और वह मुस्लिम समुदाय को खास तवज्जों नहीं दे रही हैं। शायद महागठबंधन के नेताओं को विश्वास है कि मुस्लिम समुदाय की वोट उनका पॉकेट वोट है, मुस्लिम वोट खिसकने की कोई संभावना नहीं है। वहीं, दूसरी ओर भाजपा ने भी अपना अलग रास्ता अपनाया है। भाजपा गैर मुस्लिम वोट को अपने पाले में लाने की जुगत में जुटी हुई हैं।

लेकिन, इस मामले में आजसू पार्टी एक कदम आगे निकलता दिख रहा है। ईचागढ़ विधानसभा में आदिवासी, पिछड़ी, सामान्य जातियों के बीच अपनी जनाधार मजबूत करने के साथ साथ आजसू ने अब मुस्लिम समुदाय में भी सेंधमारी शुरू कर दी है। इस अभियान में आजसू पार्टी सफल होता दिख रहा है। ईचागढ़ विधानसभा में आजसू के नेता हरेलाल महतो इस मुहिम को आगे बढ़ा रहे हैं। पिछले दिनों कपाली के डैम डूबी अंसार नगर में आयोजित इफ्तार पार्टी में पूर्व मंत्री रामचंद्र सहिस तथा आजसू केंद्रीय सचिव हरेलाल महतो शामिल हुए थे। जहां मुस्लिम समुदाय के लोगों ने जोरदार स्वागत किया था। इस कार्यक्रम के बाद से ही मुस्लिम समुदाय के लोगों को विश्वास होने लगा है कि हरेलाल महतो उनके हितैषी नेता हैं। मुस्लिम समुदाय के लोग उम्मीद जता रहे हैं कि हरेलाल महतो के माध्यम से कपाली के समस्याओं का समाधान हो सकता है। तभी तो धीरे धीरे मुस्लिम समुदाय के लोग हरेलाल महतो के साथ जुड़ रहे हैं और आजसू की सदस्यता ग्रहण कर रहे हैं।

गत 25 अप्रैल को नीमडीह में आजसू कार्यालय के उद्घाटन समारोह में कपाली के दर्जनभर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने आजसू पार्टी का सदस्यता ग्रहण किया। उन सभी का आजसू प्रमुख सुदेश महतो ने स्वागत किया और सदस्यता दिलाया। इधर, 27 अप्रैल को कपाली के दर्जनभर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने आजसू केंद्रीय सचिव हरेलाल महतो के साथ मुलाकात की और उनके साथ राजनीतिक रूप से जुड़ने की इच्छा जताई है। बताया जाता है कि कपाली से आए हुए लोगों ने चिलगु स्थित कार्यालय में हरेलाल महतो से मुलाकात की, कपाली के समस्याओं पर चर्चा की और आजसू पार्टी का कार्यक्रम आयोजित करने का आग्रह किया। मुलाकात करने वाले मुस्लिम समुदाय के लोग भूतपूर्व विधायक अरविंद कुमार सिंह के कार्यकर्ता बताए जा रहे हैं। उनमें मोहम्मद सफदर अली, मोहम्मद साबिर, मोहम्मद रहबर, ओसाब अहमद, मोहम्मद साजिद, मोहम्मद शमशी आदि शामिल थे।

Related posts

चांडिल : चौड़ीकरण कार्य में लगी कंपनी ने सड़क की मरम्मत तथा जल छिड़काव करने का दिया लिखित आश्वासन, दुर्घटना को अंजाम देने वाले वाहन की खोजबीन में जुटी पुलिस

admin

हाय रे हमार सोना झारखंड! कुकडू के फूटी महतो को सरकारी सिस्टम ने मृत बताया – पेंशन के लिए तरस रही विधवा

admin

यह कैसा शहादत दिवस – शहीद की पत्नी फफक रहीं और झामुमो के मंच पर नाच गाना

admin

Leave a Comment